in

CBSE Board Exam 2022: परीक्षा से पहले समझ लें सीबीएसई बोर्ड एग्जाम का नया पैटर्न

CBSE Board Exam 2022: सीबीएसई ने होने वाली बोर्ड परीक्षाओं में कई तरह के बदलाव किए हैं। कोरोना महामारी के कारण सीबीएसई बोर्ड 10वीं और 12वीं की दो टर्म में परीक्षा लेगा। हाल ही बोर्ड ने टर्म-1 एग्जाम की डेटशीट जारी कर दी है। सीबीएसई बोर्ड के मुताबिक,पहले टर्म की परीक्षा 30 नवम्बर से होगी और मार्च-अप्रेल-2022 में दूसरे टर्म की परीक्षाएं होंगी। परीक्षा में होने वाले बदलाव के कारण स्टूडेंट्स पर सिलेबस का दबाव तो कम होगा, लेकिन दोनों ही परीक्षा में खुद को साबित करना होगा। दोनों परीक्षा में मिलने वाले माक्र्स के आधार पर रिजल्ट तैयार किया जाएगा। सीबीएसई ने परीक्षाओं में कितना बदलाव किया है, जानिए इनके बारे में…

बदलावों को ऐसे समझें
इस साल CBSE ने सिलेबस में बदलाव करने के साथ माइनर और मेजर सब्जेक्ट के एग्जाम पैटर्न को भी बदला है। सर्कुलर के मुताबिक, पहले माइनर सब्जेक्ट के एग्जाम होंगे, उसके बाद मेजर सब्जेक्ट के लिए परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी। माइनर सब्जेक्ट्स के लिए जिन स्कूलों में ये सब्जेक्ट पढ़ाए जा रहे हैं, उन स्कूल्स के ग्रुप बनाए जाएंगे और इन सब्जेक्ट्स की डेटशीट सीधे स्कूलों को भेजी जाएगी। 10वीं में 75 और 12वीं में 114 सब्जेक्ट्स के एग्जाम होंगे।

Read More: सीबीएसई 10वीं और 12वीं की टर्म-1 की डेटशीट हुई जारी, इस दिन से शुरू हो रहे हैं एग्जाम

30 नवम्बर 2021 से शुरू होगी सीबीएसई बोर्ड के टर्म-1 की परीक्षा

50% सिलेबस आएगा परीक्षा में, ऑब्जेक्टिव होंगे सवाल

ऐसे देना होगा CBSE Board Exam 2020
दोनों ही टर्म की परीक्षाओं का पैटर्न अलग-अलग होगा। इसे समझना जरूरी है ताकि मेंटली तैयार हुआ जा सके।
टर्म-1:
इस परीक्षा में पेपर सॉल्व करने के लिए 90 मिनट दिए जाएंगे। ओएमआर शीट पर सवाल पूछे जाएंगे। ये सवाल एमसीक्यू फॉर्मेट में होंगे।
टर्म-2:
यह परीक्षा 120 मिनट की होगी। पेपर का फॉर्मेट डिस्क्रिप्टिव होगा यानी सवालों के जवाबों को डिस्क्राइब करना होगा।

Read More: ICSI ने CSEET 2022 परीक्षा के लिए आवेदन प्रक्रिया हुई शुरू, ऐसे करें अप्लाई

इन बातों का ध्यान रखें
टर्म-1 परीक्षा में दी जाने वाली ओएमआर सीट में सर्कल को भरने के लिए पेन का इस्तेमाल करना होगा।
हर सवाल के चारों सर्कल के आगे खाली जगह दी जाएगी। आप अपने गलत सर्कल को काटकर सही सर्कल को फिल कर सकेंगे। उसके बाद वह सही उत्तर उस खाली जगह में लिख सकेंगे।
टर्म-1 परीक्षा में अगर 50 प्रश्न हैं, तो आपको कोई 45 सवाल करने को कहा जा सकता है। सीबीएसई ने वेबसाइट पर सैंपल पेपर भी इसी तरह अपलोड किए हैं।

Read More: सीबीएसई की कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 30 नवंबर से, यहां पढ़ें पूरी डिटेल्स

टर्म वन होगा होम बोर्ड
टर्म वन के लिए एग्जाम सेंटर अलग से नहीं बनाए गए हैं। सीबीएसई ने कहा कि टर्म वन बच्चों के लिए होम बोर्ड रहेगा यानी बच्चों को अपने ही स्कूल में एग्जाम देने होंगे। माना जा रहा है कि टर्म 2 में भी स्टूडेंट्स को अपने स्कूलों में ही या पास के किसी सेंटर पर एग्जाम देने बुलाया जा सकता है।

 

CBSE Board Exam 2020 Latest Update

प्रैक्टिकल एग्जाम
टर्म-1 के प्रैक्टिकल एग्जाम स्कूल में ही आयोजित किए जाएंगे। अगर कोरोना की स्थिति में सुधार आता है, तो टर्म-2 के प्रैक्टिकल एग्जाम सीबीएसई करवाएगा।

Web URL: Before the exam, understand the new pattern of CBSE board exam 2022

Read More