in

CHSE Odisha 12th Result 2021: 31 जुलाई को जारी किया जाएगा विज्ञान और वाणिज्य विषय का परिणाम

नई दिल्ली। ओड़िशा के छात्रों पिछले कई दिनों से रिजल्ट के इंतजार में थे, आखिरकार काउंसिल फॉर हायर सेकेंडरी एजुकेशन (CHSE) ओडिशा ने 12वीं रिजल्ट की घोषणा की तारीख की पुष्टि कर दी गई है। स्कूल और जन शिक्षा विभाग ने 28 जुलाई को पुष्टि कर दी थी कि 12वीं विज्ञान और वाणिज्य विषयों का परिणाम 31 जुलाई, 2021 को घोषित किया जाएगा। परिणाम घोषित होने के बाद, विज्ञान और वाणिज्य स्ट्रीम के छात्र अपना परिणाम बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट orissaresults.nic.in पर जाकर देख सकेंगे।

Read More: RBSE Class 12th Result 2021: राजस्थान 12वीं बोर्ड कक्षा के रिजल्ट घोषित, एक ही क्लिक में यहां से करें चेक

आर्ट्स और वोकेशनल स्ट्रीम का परिणाम नहीं होगा जारी

बता दें कि सीएचएसई की ओर से ओडिशा आर्ट्स स्ट्रीम और वोकेशनल स्टडीज के परिणामों की घोषणा के लिए किसी तारीख की पुष्टि नहीं की गई है। इस संबंध में राज्य सरकार की ओर से सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर आर्ट्स और वोकेशनल स्टडीज के नतीजे जारी करने के लिए कुछ और समय देने की मांग की गई है.

मुख्यमंत्री ने क्या कहा

इससे पहले, मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने सीएचएसई ओडिशा कक्षा 12 की परीक्षा को रद्द करने की घोषणा की थी और कहा था कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर के बीच राज्य सरकार के लिए छात्रों का स्वास्थ्य और सुरक्षा सबसे बड़ी प्राथमिकता है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा था कि 12वीं की परीक्षा के नतीजे असेसमेंट फॉर्मूले के आधार पर ही तय कर घोषित किया जाएंगे.

Read More: जानिए कब जारी होंगे राजस्थान दसवीं बोर्ड कक्षा के नतीजे, यहां पढ़ें लेटेस्ट अपडेट

CHSE Odisha 12th Result 2021: Science and commerce results to be released on July 31

3.5 लाख छात्रों को बेसब्री से इंतजार

इस साल, लगभग 3.5 लाख छात्र अपने सीएचएसई 12वीं परिणाम जारी होने का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। सीएचएसई ओडिशा परिणाम कक्षा 10 वीं, 11 वीं और 12 की आंतरिक परीक्षाओं में छात्रों को जो अंकों प्राप्त हुए हैं, उन्हीं के आधार पर तैयार किया गया है।

Read More: mpbse 12th result 2021 एमपी बोर्ड की 12वीं का रिजल्ट घोषित, यहां देखें अपना रिजल्ट

परिणाम ज्यादा रहने के आसार

पिछले साल, कुल 74.95% छात्रों ने ओडिशा कक्षा 12 वीं की परीक्षा पास की थी। इस साल, बोर्ड को 90% से अधिक के उत्तीर्ण प्रतिशत की उम्मीद है। गौरतलब है कि कोरोना महामारी के कारण इस साल परीक्षा रद्द कर दी गई थी और परिणाम आंतरिक मूल्यांकन नीति के आधार पर ही तैयार हुआ है।

Read More