in

NEP 2020: पहली वर्षगांठ पर पीएम मोदी बोले – एक साल में राष्ट्रीय शिक्षा नीति को धरातल पर उतारा

नई दिल्ली। देशभर में राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर घोषणा के आज एक साल पूरे हो गए। एनईपी 2020 की पहली वर्षगांठ पर आयोजित एक कार्यक्रम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संबोधित कर रहे हैं। पीएम मोदी ने देशवासियों खासकर शिक्षा जगत से जुड़े, शिक्षकों, अभिभावकों और छात्रों को राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के एक साल पूरे होने पर बधाई दी है। उन्होंने कहा कि पिछले एक साल के दौरान नई शिक्षा नीति को लागू करने की दिशा में कई काम हुए हैं और कई पर तेजी से काम जारी है। साथ ही शिक्षा नीति पर अमल का काम भी तेजी से जारी है।

हम कितना आगे जाएंगे ये भविष्य की शिक्षा पर करेगा निर्भर
पीएम मोदी ने कहा कि पिछले एक साल के दौरान राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर अमल को लेकर कई बड़े फैसले लिए गए हैं। देश का युवा वर्ग बदलाव चाहता है। नई शिक्षा नीति पर अमल से देशभर में ऐतिहासिक बदलाव को बढ़ावा मिलेगा। पीएम मोदी ने कहा कि बीते एक वर्ष में देश के आप सभी महानुभावों, शिक्षको, प्रधानाचार्यों, नीतिकारों ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति को धरातल पर उतारने में बहुत मेहनत की है। भविष्य में हम कितना आगे जाएंगे, कितनी ऊंचाई प्राप्त करेंगे, ये इस बात पर निर्भर करेगा कि हम अपने युवाओं को वर्तमान में कैसी शिक्षा दे रहे हैं।

Read More: Kerala DHSE 12th Result 2021: 12वीं का रिजल्ट जारी, 87.94 % स्टूडेंट पास, यहां से करें चेक

शिक्षा के क्षेत्र में क्रांतिकारी बदलाव लाने पर जोर

केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा है कि उनका ध्यान नई शिक्षा के उद्देश्यों को तय समय सीमा के अंदर लागू करना है। बता दें कि पिछले साल केंद्र सरकार ने पीएम मोदी की अध्यक्षता में हुई एक उच्च स्तरीय बैठक में NEP को मंजूरी दी थी। NEP 2020 ने 1986 में तैयार की गई शिक्षा नीति पूरी तरह से बदल दिया और कुछ नए और नए सुधार किए हैं। एनईपी का मकसद भारत को एक ज्ञान महाशक्ति के रूप में विकसित करना है। इसके साथ ही स्कूल और उच्च शिक्षा प्रणाली में युगांतकारी परिवर्तन लाना है।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने इससे पहले जेईई एडवांस परीक्षा तिथि की घोषणा की थी। इसके मुताबिक परीक्षा का आयोजन 3 अक्टूबर को होगा। पहले यह परीक्षा 3 जुलाई को होने वाली थी, लेकिन देश में कोरोना स्थिति को देखते हुए परीक्षा को स्थगित कर दिया गया था।

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने कैबिनेट की मंजूरी प्राप्त करने के बाद 29 जुलाई, 2020 को राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 की घोषणा की थी। मंत्रालय राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अलग-अलग कार्यों को करने के लिए एक छत्र निकाय के रूप में भारतीय उच्च शिक्षा आयोग की स्थापना का प्रयास कर रहा है।

Read More: Maharashtra 12th Result 2021: 31 जुलाई तक जारी हो सकता 12वीं का परिणाम, mahresult.nic.in से कर सकेंगे चेक

Read More